व्यापारिक मुद्रा जोड़े

करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है?

करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है?
Image Credit: Shutterstock

Currency Trading से कैसे कमा सकते हैं पैसा? यहां जानिए 'करेंसी ट्रेडिंग' से जुड़ी 9 जरूरी बातें

Currency Trading in Hindi: आप पैसा बनाने की अपनी खोज में Currency Trading का लाभ उठा सकें। आइए इस लेख में जानते है कि करेंसी ट्रेडिंग क्या है? (What is Currency Trading in Hindi) और करेंसी मार्केट से जुड़े अन्य पहलुओं पर नजर डालते है।

  Currency Trading in Hindi: स्टॉक (Stock) और इक्विटी (Equity) ट्रेडिंग के बारे में हर कोई जानता है। लेकिन, एक उच्च क्षमता वाला बाजार है जिसके बारे में ज्यादातर लोगों को जानकारी नहीं है। इस एवेन्यू को मुद्रा व्यापार (Currency Trading) कहा जाता है। Foreign Currencies आपको लाभ का एक मौका देता है अगर आप सही अवसर का पता लगाने और अपने लाभ के लिए उनका उपयोग करने में सक्षम हैं। आइए हम करेंसी मार्केट ट्रेडिंग (Currency Market Trading) के बेसिक कांसेप्ट को समझते हैं ताकि आप पैसा बनाने की अपनी खोज में Currency Trading का लाभ उठा सकें। तो आइए इस लेख में जानते है कि करेंसी ट्रेडिंग क्या है? (What is Currency Trading in Hindi) और करेंसी मार्केट से जुड़े अन्य पहलुओं पर नजर डालते है।

1) करेंसी मार्केट क्या है? | What is Currency Market in Hindi

इंटरनेशनल करेंसी मार्केट में दुनिया भर के प्रतिभागी शामिल होते हैं। वे विभिन्न मुद्राओं को खरीदते और बेचते हैं। Currency Trading प्रतिभागियों में बैंक, कॉर्पोरेशन, सेंट्रल बैंक (जैसे भारत में RBI), निवेश इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट फर्म, हेज फंड, रिटेल फॉरेक्स ब्रोकर और आपके जैसे निवेशक शामिल हैं। फॉरेन करेंसी ट्रेडिंग लाभ कमाने का एक लीगल तरीका है।

2) करेंसी मार्केट फ्यूचर्स क्या हैं? | What is Currency Market Future in Hindi

Currency Market, जिसे फॉरेन करेंसी मार्केट भी कहा जाता है, निवेशकों को विभिन्न मुद्राओं पर पोजीशन लेने में मदद करता है। दुनिया भर के निवेशक ट्रेडों के लिए करेंसी फ्यूचर्स कॉन्ट्रैक्ट का इस्तेमाल करते हैं।

करेंसी फ्यूचर्स निवेशकों को भविष्य की तारीख में पहले से तय कीमत पर करेंसी खरीदने या बेचने की अनुमति देता करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? है।

3) इंडियन करेंसी मार्केट क्या है? | What is Indian Currency Market in Hindi

भारत में करेंसी फ्यूचर्स कैश सेटलमेंट हैं। इसका मतलब है कि भारत में इस तरह के Currency Trading का भौतिक रूप से निपटान नहीं होता है यानी समाप्ति पर करेंसी की कोई वास्तविक डिलीवरी नहीं होती है।

करेंसी फ्यूचर का कारोबार एनएसई, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE), MCX-SX जैसे एक्सचेंजों द्वारा पेश किए गए प्लेटफॉर्म पर किया जाता है। करेंसी ट्रेडिंग आमतौर पर सुबह 9 बजे से शाम 5.00 बजे तक होती है। लाइव करेंसी मार्केट में ट्रेड करने के लिए आपको एक फॉरेक्स ट्रेडिंग एकाउंट एक ब्रोकर के साथ खाता खोलना होगा

4) करेंसी मार्केट के प्रकार क्या हैं? | Types of Currency Market in Hindi

दुनिया भर में, दो मुख्य प्रकार के Currency Market हैं। पहला स्पॉट मार्केट या कैश मार्केट है।

दूसरा फ्यूचर मार्केट है जहां करेंसी फ्यूचर कारोबार होता है। इंडियन करेंसी मार्केट करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? में, फ्यूचर कारोबार करने का पसंदीदा तरीका है।

5) करेंसी ट्रेडिंग की मूल बातें क्या हैं? | Basic of Currency Trading

याद रखने वाली पहली बात यह है कि Currency Trading में व्यापार हमेशा मुद्राओं की एक जोड़ी (Pair of Currencies) के बीच होता है। इक्विटी या स्टॉक मार्केट के विपरीत जहां आप एक कंपनी का शेयर खरीदते हैं, भारत में करेंसी ट्रेडिंग में करेंसी पेयर पर पोजीशन लेना शामिल होगा।

उदाहरण के लिए, EUR/USD रेट एक यूरो द्वारा खरीदे जा सकने वाले अमेरिकी डॉलर की संख्या का प्रतिनिधित्व करती है। अगर आपको लगता है कि यूरो अमेरिकी डॉलर के मुकाबले मूल्य में वृद्धि करेगा, तो आप अमेरिकी डॉलर के साथ यूरो खरीदते हैं।

जब एक्सचेंज रेट बढ़ता है, तो आप यूरो वापस बेचते हैं, और आप अपने लाभ को भुनाते हैं।

6) करेंसी ट्रेडिंग शुरू करने के लिए किन-किन चीजों की जरूरत होती है?

भारत में करेंसी ट्रेडिंग शुरू करने के लिए निम्नलिखित कदम उठाएं। भारत में मुद्रा बाजार बढ़ रहा है और इस क्षेत्र में अपना सही स्थान लेने का यह सही समय हो सकता है।

  • एक प्रतिष्ठित ब्रोकर के साथ एक करेंसी ट्रेडिंग एकाउंट खोलें।
  • कस्टमर KYC (अपने ग्राहक को जानें) मानदंडों का पालन करें।
  • आवश्यक मार्जिन अमाउंट जमा करें।
  • शुरू करने के लिए अपने ब्रोकर से करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? अपेक्षित एक्सेस क्रेडेंशियल प्राप्त करें।

7) करेंसी मार्केट कैसे काम करता है? | How does the currency market work?

करेंसी या फॉरेक्स मार्केट एक विकेन्द्रीकृत (Decentralized) विश्वव्यापी बाजार है। आज यह दुनिया का सबसे बड़ा फाइनेंसियल मार्केट है और इसका एवरेज डेली वॉल्यूम लगभग 5 ट्रिलियन डॉलर है। एक बड़े करेंसी ट्रेड में करेंसी पेयर में मुद्राओं में से एक के रूप में अमेरिकी डॉलर शामिल होता है।

भारतीय एक्सचेंजों में करेंसी डेरिवेटिव सेगमेंट 4 करेंसी जोड़ियों पर करेंसी फ्यूचर्स, 3 करेंसी पेयर (EUR-USD, GBP-USD, और USD-JPY) पर क्रॉस-करेंसी फ्यूचर्स और ऑप्शंस जैसे डेरिवेटिव इंस्ट्रूमेंट्स में ट्रेडिंग प्रदान करता है। डिमांड और सप्लाई करेंसी मार्केट को चलाने का काम करती है।

8) करेंसी मार्केट में ट्रेडिंग करते समय किन बातों का ध्यान रखें?

एक सफल करेंसी ट्रेडर बनने के लिए आपको अपनी मूल बातें, लक्ष्य और जोखिम प्रबंधन सही रखना होगा। यहां उन चीजों की लिस्ट दी गई है जिन्हें आपको याद रखना चाहिए-

  • अपने ट्रेडिंग स्टाइल को समझें - प्रत्येक करेंसी ट्रेडर की एक ट्रेडिंग स्टाइल होती है। यह ट्रेडर के रिस्क प्रोफाइल से जुड़ा होता है। नियमित रूप से ट्रेड करने से पहले खुद को ठीक से समझ लें।
  • सही ब्रोकर और प्लेटफॉर्म चुनें - करेंसी ट्रेडिंग में एक अच्छा ब्रोकर होना सफलता के लिए महत्वपूर्ण है। जब भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग की बात आती है तो एक अच्छा ब्रोकर आपको संभाल लेगा, और सुनिश्चित करेगा कि आप लाइव करेंसी मार्केट न्यूज़ के बारे में अपडेट हैं।
  • अपनी सीमाएं जानें - कोई भी Currency Trading करने से पहले, व्यापार के लिए एंट्री और एग्जिट पॉइंट निर्धारित करें। कोई भी व्यापार निश्चित रूप से गारंटी नहीं है और इसलिए स्थिति प्रतिकूल होने पर दोगुना या बाहर निकलने के लिए तैयार रहें। संभावित व्यापार परिदृश्यों के बारे में एक अच्छा विचार आपको बहुत मदद करेगा।

9) मुद्रा व्यापार में शामिल जोखिम क्या हैं? | Risk Involved in Currency Trading

कृपया ध्यान रखें कि फॉरेक्स ट्रेडिंग में नुकसान का हाई रिस्क शामिल है। चूंकि आप एक मुद्रा जोड़ी के साथ काम कर रहे हैं, इसलिए अधिक चर हैं। लेकिन, किसी भी वित्तीय व्यापार या निवेश में जोखिम शामिल होते हैं।

जब आप करेंसी मार्केट ट्रेडिंग करते हैं, तो उधार ली गई धनराशि के आधार पर ट्रेडिंग न करके जोखिमों को सीमित करें और कभी भी खुद को स्ट्रेच न करें। ये केवल दो प्रमुख जोखिम हैं।

किसी भी प्रकार के व्यापार की तरह, ऐसे दिन होंगे जब आपके पास अधिक विजेता ट्रेड होंगे और कुछ दिन ऐसे होंगे जब आप अधिक हारेंगे। अपनी गलतियों से सीखें और उन्हें अपनी सफलता के लिए उपयोग करें। एक अच्छा तरीका यह होगा कि आप अपने ट्रेडों के बारे में एक नोटबुक रखें और देखें कि आप कहां गलत हुए।

फोरेक्स ट्रेडिंग ऑनलाइन

एक बाजार जो दैनिक मात्रा में लगभग $ 5.2 ट्रिलियन को आकर्षित करता है, जिसे दुनिया के सबसे बड़े बाजार के रूप में मान्यता प्राप्त है, जो विश्व स्तर पर 24 घंटे उपलब्ध है - बिल्कुल यही मुद्रा बाज़ार होता है। छोटी मार्जिन आवश्यकताओं और कम प्रवेश बाधाओं का लाभ इसे खुदरा निवेशक के पोर्टफोलियो का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाता है।

  • फ्यूचर्स, ऑप्शन में ट्रेड
  • छोटी मार्जिन आवश्यकताएँ
  • नियंत्रित विनियमन
  • पोर्टफोलियो का विविधीकरण
  • जोखिम से बचाव
  • निवेश, व्यापार, बचाव, अनुमान लगाना

मुद्रा व्यापार के लिए हमें क्यों चुनें

  • लाभ -4 गुना एक्सपोजर
  • सुरक्षित व्यापार अनुभव
  • वैयक्तिकृत सूचना
  • कुशल जोखिम प्रबंधन
  • समर्पित सलाहकार दल

अभी डीमैट खाता खोलें!

Loading.

मुद्रा और विदेशी मुद्रा बाजार की अनुशंसाएं

No data at this time

Loading.

Latest Report

Currency Daily

Currency Daily

Currency Daily

Currency Daily

Loading.

एडुएम.ओ वीडियो

गहन, विस्तृत अध्याय। आसानी से सीखने के लिए वीडियो और ब्लॉग। मजेदार, प्रभावी और सहायक

ब्लॉग्स

8 Key Elements Of Currency Trading

Understanding the Fundamentals of Currency Trading करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? for Beginners

Earn Profit Without Taking Any Risks in Currency Trading

मुद्रा संबंधी एफ.ए.क्यू

व्यापार डेरिवेटिव के लिए न्यूनतम निवेश कितना है?

यह कदम तब आया जब बाज़ार नियामक सेबी ने करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? छोटे निवेशकों को उच्च जोखिम वाले उत्पादों से बचाने के प्रयास में वर्तमान में किसी भी इक्विटी डेरिवेटिव उत्पाद के लिए न्यूनतम निवेश आकार में 2 लाख रुपए से 5 लाख रुपए तक की बढ़ोतरी की।

करेंसी ट्रेडिंग इन इंडिया क्या है और मैं मुद्रा व्यापार कैसे शुरु करूँ?

विदेशी मुद्रा व्यापार, एक मुद्रा का दूसरे में रूपांतरण है। यह दुनिया के सबसे सक्रिय रूप से कारोबार किए जाने वाले बाज़ारों में से एक है, जिसमें औसत दैनिक व्यापार की मात्रा 5 ट्रिलियन डॉलर है।

मैं ऑनलाइन फोरेक्स ट्रेडिंग कैसे कर सकता हूँ?

सभी मुद्रा व्यापार जोड़े में किया जाता है। शेयर बाज़ार के विपरीत, जहाँ आप एकल स्टॉक खरीद या बेच सकते हैं, आपको एक मुद्रा खरीदनी होगी और दूसरी मुद्रा को विदेशी मुद्रा बाज़ार में बेचना होगा। इसके बाद, लगभग सभी मुद्राओं का मूल्य चौथे दशमलव बिंदु तक होगा। बिंदु में प्रतिशत व्यापार की सबसे छोटी वृद्धि है।

भारत में मुद्रा का व्यापार कैसे कर सकता हूँ?

सभी मुद्रा व्यापार जोड़े में किया जाता है। शेयर बाज़ार के विपरीत, जहाँ आप एकल स्टॉक खरीद या बेच सकते हैं, आपको एक मुद्रा खरीदनी होगी और दूसरी मुद्रा को विदेशी मुद्रा बाज़ार में बेचना होगा। इसके बाद, लगभग सभी मुद्राओं का मूल्य चौथे दशमलव बिंदु तक होगा। बिंदु में प्रतिशत व्यापार की सबसे छोटी वृद्धि है।

विदेशी मुद्रा व्यापार से लाभ प्राप्त कैसे करें?

विदेशी मुद्रा व्यापार आपको मुनाफ़ा दे सकती है यदि आप असामान्य रूप से कुशल मुद्रा व्यापारी के साथ धनराशि को छुपा कर रखते हैं। हालांकि इसका अर्थ यह लगाया जा सकता है कि मुद्राओं में व्यापार करते समय तीन में से एक व्यापारी का पैसा नहीं डूबता, लेकिन यह समृद्ध व्यापार विदेशी मुद्रा प्राप्त करने के समान नहीं है।

क्या विदेशी मुद्रा व्यापार में कोई जोखिम कारक शामिल है?

विदेशी मुद्रा व्यापार में मुद्रा जोड़े का व्यापार शामिल है। कोई करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? भी निवेश जो संभावित लाभ प्रदान करने का प्रस्ताव रखता है उसमें भी मार्जिन पर व्यापार करते समय अपने लेनदेन के मूल्य से बहुत अधिक खोने के बिंदु तक डाउनसाइड जोखिम होता है।

भारतीय विदेशी मुद्रा क्या है?

भारत के आर्थिक सर्वेक्षण 2014-15 में कहा गया कि भारत 750 बिलियन यू.एस डॉलर से 1 ट्रिलियन डॉलर तक के विदेशी मुद्रा भंडार को लक्षित कर सकता है। दिसंबर 2019 तक, भारत के विदेशी मुद्रा भंडार मुख्य रूप से यू.एस सरकारी बॉन्ड और संस्थागत बॉन्ड के रूप में यू.एस डॉलर के साथ सोने में लगभग 6% विदेशी संचय से बने हैं ।

Forex Trading Kya Hai: क्या है फॉरेक्स ट्रेडिंग, जानें यहां कैसे कमा सकते हैं पैसे

What is Forex Trading: फॉरेक्स करंसी ट्रेडिंग के ग्लोबल मार्केट के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला टर्म है। यूरो को डॉलर्स से एक्सचेंज करना हो डॉलर को रुपये से, यह सब फॉरेक्स यानी फॉरेन एक्सचेंज करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? मार्केट का ही हिस्सा है। आज इंटरनेट की मदद से आप भी इसे घर बैठे कर सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं। बस आपको इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक कंप्यूटर चाहिए और एक फॉरेक्स ब्रोकर के साथ ट्रेडिंग अकाउंट।

KA

हाइलाइट्स

  • फॉरेक्स करंसी ट्रेडिंग के ग्लोबल मार्केट के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला टर्म है
  • 5.3 ट्रिलियन डॉलर के दैनिक लेनदेन के साथ है दुनिया का सबसे बड़ा फाइनैंशल मार्केट
  • फॉरेक्स मार्केट में आप भी पैसे कमा सकते हैं, उसके लिए बस एक ट्रेडिंग अकाउंट चाहिए

आप भी कर सकते हैं फॉरेक्स ट्रेडिंग
फॉरेक्स ट्रेडिंग कोई रॉकेट साइंस नहीं है और आज इंटरनेट की मदद से आप भी इसे घर बैठे कर सकते हैं। बिल्कुल बड़े-बड़े बैंक और फाइनैंशल ऑर्गनाइजेशन्स की तरह। बस आपको इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक कंप्यूटर चाहिए और एक फॉरेक्स ब्रोकर के साथ ट्रेडिंग अकाउंट।

फॉरेक्स ट्रेडिंग ऐसे करती है काम
फॉरेक्स मार्केट में एक करंसी को दूसरी करंसी से बदला जाता है। ट्रेडिंग में सबसे ज्यादा जरूरी बात होती है एक्सचेंज रेट। मतलब एक करंसी को दूसरी करंसी से एक्सचेंज करने की दर क्या होगी। आपने आमतौर पर देखा होगा कि रुपये की कीमत डॉलर की अपेक्षा इतनी है या डॉलर की कीमत यूरो की अपेक्षा इतनी है। आसान भाषा में कहें तो इस वक्त 16 नवंबर को रुपये की दर डॉलर की अपेक्षा 71.84 है यानी एक डॉलर खरीदने के लिए आपको 71.84 रुपये चुकाने होंगे।

D

फॉरेक्स मार्केट से कैसे कमा सकते हैं पैसे
यहां आपको उदाहरण देते हैं जिसके जरिए आप फॉरेक्स मार्केट से पैसे कमा सकते हैं या ट्रेडिंग कर सकते हैं। आप डॉलर (USD) के बदले 1,000 यूरोज़ (EUR) लेने का मन बनाते हैं। मान लीजिए कि जिस वक्त आपने यूरो खरीदे उस वक्त डॉलर/यूरो का एक्सचेंज रेट 1.45 था यानी आपको 1,000 यूरो खरीदने के लिए 1,450 डॉलर देने करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? पड़े। कुछ समय बाद एक्सचेंज रेट में थोड़ा परिवर्तन हुआ और यह बढ़कर 1.55 हो गया। अब जब आप 1,000 यूरो बेचेंगे तो आपको 1,550 डॉलर मिलेंगे। इस तरह आपको कुल 100 डॉलर का फायदा हुआ। इसी तरह अगर यूरो बेचने के वक्त एक्सचेंज रेट 1.35 रहा, तो आपको उन्हीं 1000 यूरो के बदले 1,350 डॉलर मिलेंगे यानी आपको 100 डॉलर का नुकसान हुआ।

फॉरेक्स मार्केट में बड़े-बड़े प्लेयर्स, एजेंट्स, फाइनैंशल कंपनियां इसी तरह पैसे बनाती हैं।

Forex ट्रेडिंग क्या है? | What is Forex in Hindi

forex kya hai

दोस्तों आप में से बहुत से लोग ट्रेडिंग करते होंगे और ट्रेडिंग कई तरह की होती है उन्ही में से एक फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग होती है, लेकिन क्या आपको पता है कि फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग क्या होती है और ये कितने तरह की होती है अगर नही, तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? देते हैं.

forex kya hai

Image Credit: Shutterstock

Table of Contents

Forex ट्रेडिंग क्या है (What is Forex in Hindi)

फॉरेक्स का अर्थ होता है विदेशी मुद्रा का विनिमय विदेशी मुद्रा की खरीदारी करना और ट्रेडिंग का अर्थ होता है किसी भी चीज़ का बिज़नेस करना.

फॉरेक्स ट्रेनिंग एक ऐसी ट्रेडिंग होती है जिसमे हम किसी भी दूसरे देश की करेंसी का एक जोड़ा खरीदते हैं बस जोड़े में दो करेंसी होती है इन करेंसीज का मार्केट में मूल्य घटता और बढ़ता रहता है तो ऐसे में फॉरेस्ट ट्रेडिंग करने वाला व्यक्ति टेक्निकल एनालिसिस करके अंदाजा लगाता है की आज कनसी किस रेट में नीचे जाने वाला है और किस रेट में ये ऊपर आने वाला है फॉरेक्स ट्रेडिंग में हम अच्छा पैसा लगाकर इनकम भी कमा सकते हैं फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग दुनिया की सबसे बड़ी मार्केट है जहाँ दुनिया की सभी करेंसी की ट्रेडिंग होती है। जहाँ तक बात भारत फॉरेक्स ट्रेडिंग की है तो यहाँ निवेशकों के मन में फॉरेक्स ट्रेडिंग की वैधता (लीगल) को को लेकर जरूर संदेह है.

भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग करना पूरी तरह से कानूनी काम है लेकिन यह केवल भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) और भारतीय सिक्योरिटी विनिमय बोर्ड द्वारा तय पूर्व निर्धारित सीमाओं के तहत कि यूज किया जाता है.

ऐसे में अगर यदि कोई व्यक्ति भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग शुरू करना चाहता है तो उसे इसके बारे में अच्छी जानकारी भी होनी चाहिए.

फॉरेक्स ट्रेडिंग कैसे काम करता है

जिस तरह से इक्विटी ट्रेडिंग में हमारे प्रॉफिट और लॉस के लिए हमारे द्वारा लिए गए किसी भी शेयर के मूल्य बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं ठीक उसी प्रकार से फॉरेक्स ट्रेडिंग भी हमारे देश के शेयर मार्केट में होने वाले इक्विटी ट्रेडिंग के जैसा ही होता है

फोरेक्स ट्रेडिंग में हमारे फायदे और नुकसान के लिए किसी भी विदेशी करेंसी का एक्सचेंज रेट या अंतर्राष्ट्रीय बाजार में उसके घटते बढ़ते हुए मोहल्ले इसका बहुत मायने रखते हैं उदाहरण मन कोई व्यक्ति हैं जो फॉरेक्स ट्रेडिंग करता है और वह डॉलर के बढ़ते हुए मूल्य में अच्छा प्रॉफिट लेना चाहते हैं तो मान लीजिये की उसने 70 के हिसाब से 1000 यूएस डॉलर खरीद लिये जिनकी वैल्यू 7000 रूपये होती है और ये मान लीजिए कि करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है? कल उनमें 300 की वृद्धि हो रही है और जब वो उन $1000 का बेचता है तब उसे 73000 रूपये मिलते हैं फॉरेक्स ट्रेडिंग में अच्छा प्रॉफिट कमाने के लिए उसे अच्छी तरह से एक्सचेंज रेट का टेक्निकल लाइन से करना होगा.

फॉरेक्स ट्रेडिंग के लिए बेस्ट करेंसी कौन सी है

फॉरेक्स ट्रेडिंग करने के लिए सभी देशों की मुद्राएं में से सबसे अच्छी करेंसी है

इन देशों की करंसी मैं अगर आप फॉरेक्स ट्रेडिंग करते हैं तो यह आपके लिए काफी बेनिफिट वाला हो सकता है.

हमारे देश भारत में फॉरेक्स ट्रेडिंग कैसे करें?

हमारे देश में बहुत से लोग शेयर मार्केट में इन्वेस्टमेंट करते हैं लेकिन उन्हें फॉरेक्स ट्रेडिंग के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी न होने के कारण वह फॉरेक्स ट्रेडिंग नहीं कर पाते हैं हमारे भारत देश में बहुत सारी बड़ी बड़ी कंपनियां हैं और बड़े बड़े बैंक हैं जो फॉरेक्स ट्रेडिंग करते है और अच्छा प्रॉफिट भी कमाते हैं फॉरेक्स ट्रेडिंग में इन्वेस्टमेंट कर कोई भी अच्छी इनकम कमा सकता है जैसे कि आप शेयर मार्केट में करते हुए इसमें बहुत ही कम रिस्क होता है पर ये आपको अच्छा प्रॉफिट भी देता है जिसके लिए आपको ब्रोकर आपको अच्छा मार्जिन भी देते हैं जिस कारण से अब कम इन्वेस्टमेंट करते हैं अधिक से अधिक फॉरेक्स ट्रेडिंग कर सकते हैं

फॉरेक्स ट्रेडिंग की सावधानियां क्या-क्या है?

फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग करने के लिए आपको ये सावधानियां रखना जरूरी है-

  • फॉरेक्स ट्रेडिंग करने के लिए आपको इसके बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए
  • फॉरेक्स ट्रेडिंग करने के लिए आप पहले से ही मार्केट में एक इन्वेस्टर ग्रुप में काम कर रहे हो तो आप इसमें अच्छा प्रॉफिट कमा सकते हैं
  • आज के टाइम में तो फर्स्ट थिंग करने के लिए बहुत से कोर्स भी आते हैं आप उन कोशिशों कर सकते हैं
  • अगर आप फॉरेस्ट ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको टेक्निकल एनालिसिस का अच्छा ज्ञान होना चाहिए और आप को मार्केट का पूर्वानुमान लगाना भी आना चाहिए
  • फॉरेक्स ट्रेडिंग शुरू करने के लिए आपके पास एक अच्छा बैंक बैलेंस भी होना चाहिए जिससे अगर आपको कभी ट्रेडिंग करने में कोई घाटा हो तो आप उसे कवर कर सकते हैं.

इसे भी पढ़े?

आज आपने क्या सीखा?

हमे उम्मीद है कि हमारा ये (forex kya hai) आर्टिकल आपको काफी पसन्द आया होगा और आपके लिए काफी यूजफुल भी होगा क्युकी इसमे हमने फ़ॉरेक्स ट्रेडिंग से रिलेटेड पूरी जानकारी दी है.

हमारी ये (forex kya hai) जानकारी कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

रेटिंग: 4.18
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 765
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *