विश्‍व के बाजारों में ट्रेड करें

उपलब्ध बाजार

उपलब्ध बाजार
गाय के गोबर से बना पेंट अब बाजार में उपलब्ध, नितिन गडकरी ने 'वेदिक पेंट' को किया लॉंच

बाजार में उपलब्ध होना किसे कहते है | बाजार में उपलब्ध होना का अंग्रेजी में मतलब या अर्थ क्या होता है बाजार में उपलब्ध होना in english उपलब्ध बाजार बाजार में उपलब्ध होना

what is meaning or translate in english word बाजार में उपलब्ध होना किसे कहते है | बाजार में उपलब्ध होना का अंग्रेजी में मतलब या अर्थ क्या होता है बाजार में उपलब्ध होना in english बाजार में उपलब्ध होना ?

बाजार में उपलब्ध होना का मतलब = be in season

अर्थात बाजार में उपलब्ध होना का इंग्लिश में मीनिंग क्या होता है = be in season

यह एक प्रकार की Verb होती है या इसे Verb कहा जाता है |

इसका मतलब ये है कि be in season को हिंदी में बाजार में उपलब्ध होना कहते है या दुसरे शब्दों में कहे तो बाजार में उपलब्ध होना का अंग्रेजी भाषा में अर्थ या ट्रांसलेट be उपलब्ध बाजार in season होता है |

tell me the meaning of बाजार में उपलब्ध होना in English language = be in season

in Another word i can ask what is meaning in hindi of word be in season that is = बाजार में उपलब्ध होना

here this word is working as Verb , so when we use the word बाजार में उपलब्ध होना or be in season in any sentence it will work as Verb in most of cases.

so we have studied about the word be in season which mean in hindi is बाजार में उपलब्ध होना and this is type of Verb in any given sentence.

what is definition of बाजार में उपलब्ध होना or बाजार में उपलब्ध होना की परिभाषा इंग्लिश में क्या होती है या बाजार में उपलब्ध होना को अंग्रेजी भाषा में किस शब्द से परिभाषित किया जा सकता है वो है be in season .

गाय के गोबर से बना पेंट अब बाजार में उपलब्ध, नितिन गडकरी ने 'वेदिक पेंट' को किया लॉंच

नई दिल्ली। केन्‍द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग तथा सूक्ष्‍म, लघु एवं मध्‍यम उद्यम मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग द्वारा विकसित एक अभिनव पेंट को लॉन्च किया। ‘खादी प्राकृतिक पेंट’ नामक यह पेंट पर्यावरण अनुकूल, विष-रहित है, जो फफूंद-रोधी, जीवाणु-रोधी गुणों के साथ अपनी तरह का पहला उत्‍पाद है। मुख्‍य घटक के रूप में गाय के गोबर पर आधारित यह पेंट किफायती और गंधहीन है, जिसे भारतीय मानक ब्‍यूरो द्वारा प्रमाणित किया गया है।

Khadi India Paint

गाय के गोबर से बना पेंट अब बाजार में उपलब्ध, नितिन गडकरी ने 'वेदिक पेंट' को किया लॉंच

यह भी पढ़ें- हरियाणा में दुर्घटना सहायता योजना बंद, कांग्रेस ने की दोबारा शुरू करने की मांग

खादी प्राकृतिक पेंट दो रूपों यानी डिस्‍टेंपर पेंट तथा प्‍लास्टिक इम्‍यूलेशन पेंट में उपलब्‍ध है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के किसानों की आय बढ़ाने की दृष्टि के अनुसार खादी प्राकृतिक पेंट का उत्‍पादन किया जा रहा है। खादी ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के अध्‍यक्ष द्वारा मार्च, 2020 में इस परियोजना की अवधारणा तैयार की गई थी। इसके बाद कुमारप्‍पा नेशनल हैंडमेड पेपर इंस्टीट्यूट, जयपुर (केवीआईसी की इकाई) द्वारा इसे विकसित किया गया।

Khadi India Paint

गाय के गोबर से बना पेंट अब बाजार में उपलब्ध, नितिन गडकरी ने 'वेदिक पेंट' को किया लॉंच

यह भी पढ़ें- गांव के बाद अब शहरों में भी जेजेपी और बीजेपी के नेताओं की उपलब्ध बाजार उपलब्ध बाजार एंट्री पर लगा बैन

यह पेंट सीसा, पारा, क्रोमियम, आर्सेनिक, कैडमियम तथा अन्‍य भारी धातुओं से मुक्‍त है। इससे स्‍थानीय निर्माता सशक्‍त बनेंगे और प्रौद्योगिकी हस्‍तांतरण के माध्‍यम से टिकाऊ स्‍थानीय रोजगार पैदा होगा। इस प्रौद्योगिकी से पर्यावरण अनुकूल उत्‍पादों के लिए कच्‍चे माल के तौर पर गाय के गोबर की खपत बढ़ेगी और किसानों तथा गोशालाओं की आय भी बढ़ेगी। एक अनुमान के अनुसार किसानों/गौशालाओं की प्रति वर्ष, प्रति मवेशी लगभग 30,000 रुपये की अतिरिक्‍त आय होगी। गाय के उपलब्ध बाजार गोबर के इस्‍तेमाल से पर्यावरण भी स्‍वच्‍छ होगा तथा जल निकासी का अवरोध भी दूर होगा।

Khadi India Paint

गाय के गोबर से बना पेंट अब बाजार में उपलब्ध, नितिन गडकरी ने 'वेदिक पेंट' को किया लॉंच

तीन प्रख्‍यात राष्‍ट्रीय प्रयोगशालाओं- नेशनल टेस्ट हाउस, मुंबई, श्री राम इंस्टीट्यूट फॉर इंडस्ट्रियल रिसर्च, नई दिल्ली और नेशनल टेस्ट हाउस, गाजियाबाद में खादी प्राकृतिक उपलब्ध बाजार डिस्‍टेंपर तथा इम्‍यूलेशन पेंट की जांच की गई है। खादी प्राकृतिक इम्‍यूलेशन पेंट बीआईएस 15489-2013 मानकों को पूरा करता है, जबकि खादी प्राकृतिक डिस्‍टेंपर पेंट बीआईएस 428:2013 मानकों को पूरा करता है।

स्थानीय उत्पादों को हाट-बाजार उपलब्ध कराने की पहल

हल्द्वानी। जिलाधिकारी श्री सविन बंसल के निर्देशों के क्रम में शनिवार को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजना के तहत स्वयं सहायता समूह के उत्पादों को बाजार प्रदान करने के उपलब्ध बाजार उददेश्य से विकास खण्ड परिसर मे नारी शक्ति महिला आजीविका ग्राम संगठन पनियाली के माध्यम से हाट बाजार लगाया गया। जिसका शुभारम्भ ब्लाक प्रमुख रूपा देवी द्वारा किया गया।
उन्होने कहा एनआरएलएम की महिला समूहों को हाट बाजार के माध्यम से समूहाें द्वारा उत्पादों की बिक्री होगी जिससे जहां उनकी आर्थिकी मजबूत होगी वही पर्वतीय क्षेत्रों मे लोगों का पलायन भी रूकेगा। हाट बाजार मे लगभग 12 महिला समूहोें के साथ ही स्थानीय विके्रताओं द्वारा भी फल, सब्जियोें की दुकानेें लगाई गई। जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी ने कहा कि हाटबाजार का मुख्य उददेश्य स्वयं सहायता समूह की महिलाओ को उत्पादित सामग्री हेतु बाजार उपलब्ध कराना है ताकि महिलायें आर्थिक एवं सामाजिक रूप से सशक्त हो सकें।
हाट बाजार में एपीडी संगीता आर्या, खण्ड विकास अधिकारी डा0 निर्मला जोशी के अलावा ग्राम विकास अधिकारी, ग्राम पंचायत अधिकारी के साथ ही एरिया र्कोडिनेटर एवं ग्रामीण व क्रेता मौजूद थे।

विराट-अनुष्का ने कोरोना से लड़ने को दिए दो करोड़, इतने रुपये जुटाने का है लक्ष्य

मोदी के 450 गीगावाट नवीकरणीय ऊर्जा के लक्ष्य के मद्देनजर अमेरिका ने की भारत के साथ साझेदारी: केरी

Amrit Vichar (अमृत विचार) is one of leading hindi News Portal in Uttar Pradesh and Uttarakhand. Amrit Vichar brings you the latest and breaking news in Hindi from India and all over the world. We are in touch with our readers through various activities – Breaking News, Photo Gallery, YouTube Channel and Social Media. Our readers can read the e-version of our Daily Newspaper and weekly Magazine through an e-paper platform epaper.amritvichar.com. Recently Amrit Vichar is publishing from Bareilly, Lucknow, Moradabad and Haldwani (Kumaun).

2022-2023 सीजन: फिलीपींस में 1.8 मिलियन टन से अधिक चीनी बाजार में उपलब्ध कराई जाएगी

Sugar Production

Representational Image

मनीला : Sugar Regulatory Administration (SRA) घरेलू उपयोग के लिए 2022-2023 सीजन में पूरे चीनी उत्पादन को आवंटित करने के लिए तैयार है।मंगलवार को जारी शुगर ऑर्डर (एसओ) 1 के अनुसार, देश में 1.8 मिलियन मीट्रिक टन से अधिक चीनी बाजार में उपलब्ध कराई जाएगी। सीजन 1 सितंबर 2022 से 31 अगस्त, 2023 तक होगा।

SRA सीजन 2022-2023 चीनी उत्पादन और निकासी की प्रवृत्ति का आकलन उपलब्ध बाजार उपलब्ध बाजार करेगा। इससे पहले, राष्ट्रपति मार्कोस ने 300,000 मीट्रिक टन चीनी आयात रद्द कर दिया था। चीनी आयात में गड़बड़ी के चलते आयात आदेश पर हस्ताक्षर करने वालों ने अपना इस्तीफा दे दिया, जबकि सीनेट ब्लू रिबन समिति ने अंडरसेक्रेटरी लेओकाडियो सेबेस्टियन, पूर्व एसआरए प्रमुख हर्मेनगिल्डो सेराफिका, एसआरए बोर्ड के सदस्य रोलैंड बेल्ट्रान और एसआरए बोर्ड के सदस्य ऑरेलियो वाल्डेरामा जूनियर के खिलाफ प्रशासनिक मामले दर्ज करने की मांग की।

रेटिंग: 4.49
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 259
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *