मुफ़्त विदेशी मुद्रा रणनीति

बाजार में शिवलिंग

बाजार में शिवलिंग
पारद शिवलिंग चांदी और पारा धातु से निर्मित होता है जिसे हमारे शास्त्रों में बहुत पवित्र शिवलिंग का दर्जा दिया गया है। ऐसा कहा जाता है कि जिस घर में भी पारद शिवलिंग स्थापित हो वहां साक्षात भोलेनाथ निवास करते हैं और केवल भगवान शिव ही नहीं माता लक्ष्मी और कुबेर देवता का भी उस स्थान पर वास होता है।

Narmdeshwar-shivling-ki-pahchan-pooja-kaise-kre-sthapna (3)

भुनेश्वर धाम मंदिर को धार्मिक न्यास समिति से मिली मान्यता

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा) काफी जद्दोजहद बाद प्रखंड के चकभारो पंचायत स्थित प्रसिद्ध बाबा भुनेश्वर धाम मंदिर को धार्मिक न्यास समिति पटना से मान्यता मिल गई है। इसके साथ ही रविवार को नई कमेटी की पहली बैठक मंदिर प्रांगण में आयोजित की गई। बैठक में कई प्रस्तावों पर चर्चा उपरांत ध्वनि मत से पारित किया गया।

नई कमेटी की पहली बैठक हुई : बाबा भुवनेश्वर धाम को न्यास परिषद के द्वारा अधिग्रहण कर लिए जाने के बाद समिति की पहली बैठक 4 दिसंबर रविवार को मंदिर परिसर में नई कमेटी के अध्यक्ष टंडन पुरुषोत्तम के अध्यक्षता में हुई। बैठक में कई प्रस्ताव पर चर्चा हुआ। जिसमें पूरे मंदिर परिसर को सीसीटीवी कैमरे से लैस किया जाएगा। वही मंदिर में बिजली लगाने का भी प्रस्ताव पारित किया गया।

Somwar Ke Upay: भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सोमवार की शाम को करें ये विशेष उपाय, नहीं होगी आर्थिक तंगी

Anupma Raj

Somwar ko kare ye khas upay

Somwar Ke Upay (Image: Social Media)

Somwar Ke Upay in Hindi: भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए किसी भी दिन श्रद्धाभाव से पूजा करने से भक्त की सारी मनोकामना पूरी हो जाती है। इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से भोलेनाथ अपनी कृपा भक्त पर करते हैं। अगर आप भी आर्थिक तंगी से परेशान हैं या अपनी इच्छा को पूरी करने के लिए सोमवार के दिन भगवान शिव की पूजा करते समय कुछ खास उपाय करें। तो आइए जानते हैं भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सोमवार की शाम कौन से विशेष उपाय करें:

पारद शिवलिंग के फायदे ( Parad Shivling benefits in hindi )

1. यह घर के वातावरण को सुखमय और समृद्ध बनाता है।

2. पारद शिवलिंग से सिर्फ भगवान शिव का ही आशीर्वाद प्राप्त नहीं होता बल्कि माता लक्ष्मी की कृपा भी बरसती है।

3. इसकी पूजा से कुंडली में मौजूद सभी तरह के गृह दोष समाप्त हो बाजार में शिवलिंग जाते हैं।

4. मोक्ष प्राप्ति का द्वार खोलता है पारद शिवलिंग।

5. चरक सहिंता समेत कई पुराणों में उल्लेख मिलता है कि real shivling पारद तंत्र-मंत्र और बुरी शक्तियों के प्रभावों को समाप्त कर देता है।

6. उच्च रक्तचाप और अस्थमा की बीमारी से लड़ने में बहुत सहायक है क्योंकि इसमें शामिल पारा रोगों से लड़ने की क्षमता रखता है।

7. जिस घर में पारद होता है वहां भगवान शिव, माता लक्ष्मी और कुबेर देवता तीनों का वास माना जाता है।

8. पारद शिवलिंग ( Parad Shivling real ) को प्राण प्रतिष्ठा की आवश्यकता नहीं होती है।

क्या घर में पारद शिवलिंग रखना चाहिए? ( Kya ghar me Parad Shivling rakhna chahiye? )

घर के सभी वास्तु दोषों की समाप्ति के लिए और वातावरण को पवित्र करने के पारद शिवलिंग को घर में रखा जाता है। यदि आप अपने घर में मौजूद दरिद्रता और बुरी शक्तियों का नाश करना चाहते हैं इसे घर में स्थापित कर सकते हैं।

हमारे पास जो पारद शिवलिंग उपलब्ध है उसमें छोटे असली पारद शिवलिंग की कीमत मात्र ₹ 529 और बड़े असली पारद शिवलिंग की कीमत ₹ 990 है।

पारद शिवलिंग कहाँ से खरीदें? ( Parad Shivling kaha se kharide? )

यदि आप यह खरीदने के इच्छुक हैं तो हमारे पास original parad shivling उपलब्ध है इसे हमारी वेबसाइट prabhubhakti.in पर जाकर parad shivling online buy कर सकते हैं।

शिवलिंग पर संध्या के समय जल चढ़ाया जा सकता है। शाम के समय जल चढ़ाने के लिए किसी तरह का कोई प्रतिबंध नहीं है व्यक्ति अपनी श्रद्धा से शिवलिंग पर सुबह और शाम दोनों ही समय पर शिवलिंग पर जल चढ़ा सकते है।

नर्मदेश्वर शिवलिंग की पहचान

नर्मदेश्वर शिवलिंग संगेमरमर के पत्थर की तरह छेद रहित, साफ़ तथा चमकदार होते हैं. यह शिवलिंग ठोस भी होते हैं. तथा यह शिवलिंग वजन में अन्य शिवलिंग की तुलना में भारी होती हैं. अधिकतर बाजार में शिवलिंग यह शिवलिंग छोटे रूप में पाए जाते हैं.

नर्मदेश्वर शिवलिंग की पूजा करने की संपूर्ण विधि हमने नीचे बताई हैं.

  • सबसे पहले तो आपको इस बात का ध्यान रखना है. की नर्मदेश्वर शिवलिंग की जब भी आप स्थापना करे. तो शिवलिंग का मुख उत्तर दिशा की तरफ होना चाहिए.
  • इसके पश्चात यह ध्यान रखे की आप जिस नर्मदेश्वर शिवलिंग की स्थापना करने जा रहे है. उसकी लम्बाई 6 इंच से अधिक न हो. अर्थात अपने अंगूठे के बराबर होना चाहिए.
  • अब पूजा करने के दौरान सुबह उठकर स्नान आदि कर लेना हैं. और साफ़ वस्त्र धारण करने हैं.
  • अब एक चौकी या थाल में नर्मदेश्वर शिवलिंग को स्थापित करना हैं.
  • अब जल तथा बेलपत्र अर्पित करे.
  • अब हाथ जोड़कर महामृत्युंजय मंत्र या “ओमनम:शिवायमंत्र” का अपनी इच्छा अनुसार जाप करे.
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग की अपने घर में स्थापना करने से सुख-शांति बनी रहती हैं. तथा सभी कष्टों से हमे मुक्ति मिलती हैं.

नर्मदेश्वर शिवलिंग के फायदे

नर्मदेश्वर शिवलिंग को अन्य शिवलिंग से ऊपर माना जाता हैं. इसके लिए नर्मदेश्वर शिवलिंग के फायदे भी अधिक हैं. हमने नर्मदेश्वर शिवलिंग के कुछ फायदे नीचे बताए हैं.

  • नर्मदेश्वर शिवलिंग की पूजा करने से मनुष्य के भाग्य खुल जाते हैं.
  • कई बार काफी मेहनत करने के बाद भी हमे सफलता नहीं मिलता है. ऐसी स्थिति में नर्मदेश्वर शिवलिंग की स्थापना करने से और पूजा करने से हमारी किस्मत खुल जाती हैं. हमे हर एक क्षेत्र में सफलता मिलने लगती हैं.
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग की स्थापना करने से हमारे सभी कष्टों का निवारण होता हैं.
  • नर्मदेश्वर शिवलिंग की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि का वातावरण बना रहता हैं.

नर्मदेश्वर शिवलिंग कितने प्रकार के होते हैं

शिवलिंग काफी प्रकार के होते हैं. जैसे की सोने और चांदी के शिवलिंग, पारद शिवलिंग, जनेउधारी शिवलिंग, स्वयंभू शिवलिंग इन्ही शिवलिंग में एक नर्मदेश्वर शिवलिंग भी है. नर्मदेश्वर शिवलिंग के अन्य कोई प्रकार नहीं हैं. लेकिन सभी शिवलिंग में नर्मदेश्वर शिवलिंग अधिक फलदायी माना जाता हैं.

अगर आप नर्मदेश्वर शिवलिंग खरीदना चाहते हैं. तो आपको नर्मदेश्वर शिवलिंग 500 से 700 रूपये के करीब मिल जाएगा. यह शिवलिंग आप किसी भी मंदिर के बाहर पुजापा वाले की दुकान से या फिर ऑनलाइन माध्यम से भी खरीद सकते हैं.

नर्मदेश्वर शिवलिंग के बारे में कुछ अन्य जानकारी

  • यह शिवलिंग अन्य शिवलिंग की तुलना में अधिक शुभ फलदायी माना जाता हैं.
  • यह शिवलिंग नर्मदा नदी से निकलते है. इस कारण इसे नर्मदेश्वर शिवलिंग के नाम से जाना जाता हैं.
  • नर्मदेश्वर बाजार में शिवलिंग शिवलिंग की घर में स्थापना करने से दुसरे शिवलिंग की तुलना में अधिक लाभ मिलता हैं.

दोस्तों आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताया की नर्मदेश्वर शिवलिंग की पहचान कैसे करते है तथा नर्मदेश्वर शिवलिंग कहा मिलता है. इसके अलावा इस टॉपिक से संबंधित अन्य और भी जानकारी प्रदान की हैं. हम उम्मीद करते है की आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा.

रेटिंग: 4.45
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 822
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *